सर्दी जुकाम को ठीक करने का कोई सटीक उपाय नहीं है। हालाँकि ये बात सही भी है कि इसक

सर्दी जुकाम के कुछ सामान्य कारण जैसे सिरदर्द, नाक बहना, बलगम, तेज़ बुखार, आँखों में खुजली होना, गले में खराशे, बदन दर्द आदि हैं। ज़रूरी है कि हम जुकाम का इलाज जल्द से जल्द कर लें क्योंकि इससे और भी कई तरह के संक्रमण पैदा हो सकते हैं जैसे गला ख़राब, ब्रोंकाइटिस और निमोनिया आदि। जुकाम के लक्षणों को ठीक करने के लिए आप कई ऐसे असरदार और प्रभावी घरेलू उपायों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़ें - सर्दी जुकाम का इलाज)

तो आइये आपको बताते हैं ऐसे कुछ घरेलू उपाय जिनके इस्तेमाल करने से आपको किसी भी तरह का नुकसान नहीं होगा।

सर्दी जुकाम के घरेलू नुस्खे में उपयोग करें लहसुन - Sardi jukam ke gharelu nuskhe me upyog kare garlic in Hindi
सर्दी जुकाम का घरेलू उपाय है शहद - Sardi jukam ka gharelu upay hai honey in Hindi
सर्दी जुकाम ठीक करने का उपाय है मसालेदार चाय - Sardi jukam thik karne ka
tarika hai spiced tea in Hindi
सर्दी जुकाम दूर करने का उपाय है अदरक और शहद - Sardi jukam dur karne ka upay hai ginger and honey in Hindi
सर्दी जुकाम से बचने के घरेलू उपाय है चिकन सूप - Sardi jukam se bachne ka gharelu upay hai chicken soup in Hindi
सर्दी जुकाम से छुटकारा दिलाता है प्याज - Sardi jukam se chutkara dilata hai onions in Hindi
सर्दी जुकाम का रामबाण उपाय करें काली मिर्च से - Sardi jukam ka ramban upay kare black pepper se in Hindi
सर्दी जुकाम का देसी नुस्खा है मुलेन चाय - Sardi jukam ka desi nuskha hai mullein tea in Hindi
सर्दी भगाने का तरीका है हल्दी दूध - Sardi bhagane ka upay turmeric milk in Hindi
सर्दी दूर करने के घरेलू उपाय करे दालचीनी से - Sardi dur karne ke tarike me kare cinnamon ka upyog in Hindi
सर्दी ठीक करने के घरेलू उपाय में करे काढ़ा का उपयोग - Sardi thik karne ka tarika hai kadha in Hindi
सर्दी जुकाम से राहत दिलाता है सेंधा नमक - Sardi jukam se rahat dilata hai epsom salt in Hindi
जुकाम से बचने का घरेलू उपाय है गरारे - Jukam se bachne ka tarika hai gargle in Hindi
जुकाम दूर करने के घरेलू उपाय करे आवश्यक तेल से - Jukam dur karne ke desi nuskhe me essential oils ka upyog in Hindi
जुकाम का देसी नुस्खा है मछली का तेल - Jukam bhagane ka tarika hai fish oil in Hindi
सर्दी जुकाम का रामबाण उपाय है तुलसी - Jukam ka ramban nuskha hai basil leaves in Hindi
सर्दी से छुटकारा पाने का उपाय है गुड़ - Sardi se chutkara pane ke tarike me kare molasses ka upyo in Hindi
जुखाम से छुटकारा पाए किशमिश से - Jukam se chutkara paye raisins se in Hindi

सर्दी जुकाम के घरेलू नुस्खे में उपयोग करें लहसुन - Sardi jukam ke gharelu nuskhe me upyog kare garlic in Hindi
सामग्री –

1-2 लहसुन की फांके।
1 चम्मच शहद।
विधि –

सबसे पहले लहसुन को छील लें फिर उसे शहद के साथ लगाकर खा जाएँ।
लहसुन का इस्तेमाल कब तक करें –

इसका इस्तेमाल हफ्ते में दो बार ज़रूर करें।

लहसुन के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

लहसुन किचन में मौजूद एक आम सामग्री है जिसमे कई बेहद लाभदायक गुण मौजूद होते हैं। कुछ रिसर्च के अनुसार लहसुन के इस्तेमाल से बहुत जल्द आराम मिलता है। इसमें एंटीमाइक्रोबियल और एंटीवाइरल गुण भी होते हैं जो सर्दी जुकाम करने वाले वाइरस को मारते हैं और लक्षणों से राहत दिलाने में मदद करते हैं। 

(और पढ़ें - लहसुन के फायदे) 

सर्दी जुकाम का घरेलू उपाय है शहद - Sardi jukam ka gharelu upay hai honey in Hindi
सामग्री –

एक चम्मच शहद।
विधि –

आप सिर्फ एक चम्मच शहद खा सकते हैं या एक ग्लास गर्म दूध में मिलाकर रात को सोने से पहले भी पी सकते हैं।
शहद का इस्तेमाल कब तक करें –

शहद का इस्तेमाल पूरे दिन में दो बार ज़रूर करें।

शहद के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

शहद में एंटीवाइरल गुण मौजूद होते हैं। ये जुकाम और ख़राशों का इलाज करने के लिए बेहद प्रभावी उपाय है। इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण प्रतिरोधक क्षमता को वायरस से लड़ने में मदद करते है या सर्दी जुकाम करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करते हैं। अच्छा परिणाम पाने के लिए आप कच्चा या आर्गेनिक शहद का इस्तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़ें - शहद के फायदे)

सर्दी जुकाम ठीक करने का उपाय है मसालेदार चाय - Sardi jukam thik karne ka tarika hai spiced tea in Hindi
सामग्री –

एक चौथाई कप धनिये के बीज।
आधा चम्मच जीरा और सौफ के बीज।
एक चौथाई चम्मच मेथी के बीज।
एक कप पानी।
डेढ़ चम्मच मिश्री।
दो चम्मच दूध।
विधि –

सबसे पहले धनिये के बीज, जीरा और सौफ के बीज और मेथी के बीज को भून लें फिर उसे मिक्सर में मिक्स कर लें।
अब एक कप गर्म पानी करें।
अब उसमे डेढ़ चम्मच मिक्स किये हुए पाउडर को डालें और मिश्री को मिला लें।
फिर इस मिश्रण को तीन से चार मिनट के लिए उबलने के लिए छोड़ दें। फिर इसी मिश्रण में दो चम्मच दूध मिलाएं।
फिर से इस मिश्रण को उबलने के लिए छोड़ दें।
उबलने के बाद मिश्रण को छान लें। अब इस मिश्रण को गर्म गर्म आराम से पी जाएँ।
मसालेदार चाय का इस्तेमाल कब तक करें –

जब तक जुकाम के लक्षण नहीं चले जाते तब तक इस मसालेदार चाय को रोज़ाना पियें।

मसालेदार चाय के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

मसालेदार चाय एक बेहतरीन आयुर्वेदिक उपाय है जो सर्दी जुकाम को दूर करने में मदद करता है।

(और पढ़ें - मसाला चाय के फायदे, नुकसान और बनाने का विधि)

सर्दी जुकाम दूर करने का उपाय है अदरक और शहद - Sardi jukam dur karne ka upay hai ginger and honey in Hindi
सामग्री –

एक लम्बा अदरक का टुकड़ा।
एक कप गर्म पानी।
एक चम्मच शहद।
विधि –

सबसे पहले अदरक के टुकड़े को क्रश कर लें और फिर उसे कुछ मिनट के लिए गर्म पानी में डाल दें।
अब पानी को छान लें और फिर उसमे शहद अच्छे से मिला लें।
अच्छे से मिलाने के बाद मिश्रण को पी जाएँ।
आप अदरक के पेस्ट या कटे हुए अदरक को सूप में डालकर भी पी सकते हैं।
अदरक का इस्तेमाल कब तक करें –

पूरे दिन में दो से तीन कप अदरक की चाय पियें।

अदरक के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

अदरक एक और किचन सामग्री है जो सर्दी जुकाम के लक्षणों से जल्द राहत दिलाने में मदद करती है। अदरक ठंड को दूर करती है और शरीर को गर्म करती है। इसकी सुगंध आपकी नाक को खोलती है। इसके अलावा अदरक सूजनरोधी गुणों के लिए भी जानी जाती है। इसका प्राकृतिक तेज़ प्रभाव बंद नाक के बलगम को साफ़ करता है।

(और पढ़ें - अदरक के फायदे)

सर्दी जुकाम से बचने के घरेलू उपाय है चिकन सूप - Sardi jukam se bachne ka gharelu upay hai chicken soup in Hindi
चिकन सूप में बेहद आवश्यक पोषक तत्व और विटामिन होते हैं जो सर्दी जुकाम के लक्षणों का इलाज करने में मदद करते हैं। इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण बहुत तेज़ी से इलाज करते हैं। इसके साथ ही ये प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और शरीर को ऊर्जा देता है। अच्छा परिणाम पाने के लिए आप घर पर चिकन सूप बना सकते हैं। अगर आप चिकन नहीं खाते तो सब्ज़ियों से बना सूप भी पी सकते हैं।

सर्दी जुकाम से छुटकारा दिलाता है प्याज - Sardi jukam se chutkara dilata hai onions in Hindi
सामग्री –

एक प्याज।
शहद।
विधि –

सबसे पहले प्याज को छील लें और फिर उसे छोटे छोटे टुकड़ों में काट लें।
अब उसमे शहद को डालें।
अब इस मिश्रण को एक बोतल में बंद करके रातभर के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
अब रोज़ सुबह एक या दो शहद से मिश्रित प्याज के टुकड़े खाएं।
प्याज का इस्तेमाल कब तक करें –

पूरे दिन में एक दो शहद से मिश्रित प्याज के टुकड़े खाएं।

प्याज के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

प्याज में सूजनरोधी, एंटीमाइक्रोबियल और एक्सपेक्टोरैंट्स गुण होते हैं। इसकी मदद से आपकी छाती में जमा बलगम निकलने में मदद मिलती है। वायरस से होने वाले सर्दी जुकाम को भी खत्म करता है।

(और पढ़ें - प्याज के फायदे)

सर्दी जुकाम का रामबाण उपाय करें काली मिर्च से - Sardi jukam ka ramban upay kare black pepper se in Hindi
सामग्री –

1/2 चम्मच ताजा काली मिर्च।
गुनगुने पानी का गिलास।
विधि –

सबसे पहले काली मिर्च पाउडर लें और फिर उसे पानी में डाल दें।
डालने के बाद अच्छे से उसे चला दें।
अब इस मिश्रण को पी जाएँ।
काली मिर्च का इस्तेमाल कब तक करें –

जब जब ज़रूरत हो इस मिश्रण को कुछ ही घंटों में पीते रहें।

काली मिर्च के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

काली मिर्च का मिश्रण पीने से बलगम निकल जाएगा और छीकों को भी रोकने में मदद मिलेगी। इसकी मदद से आपके गले का दर्द और कफ से भी रहता मिलेगी।

(और पढ़ें - काली मिर्च के फायदे)

सर्दी जुकाम का देसी नुस्खा है मुलेन चाय - Sardi jukam ka desi nuskha hai mullein tea in Hindi
सामग्री –

मुलेन चाय।
एक कप पानी।
विधि –

मुलेन चाय बनाने के लिए, मुट्ठीभर मुलेन की पत्तियों को एक कप पानी के बर्तन में डाल दें।
फिर इसे पांच से दस मिनट के लिए उबलने को रख दें।
उबलने के बाद उसे छान लें और अब उसमे शहद मिलाएं और पी जाएँ।
मुलेन चाय का इस्तेमाल कब तक करें –

मुलेन चाय का इस्तेमाल पूरे दिन में दो या तीन बार ज़रूर करें।

मुलेन चाय के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

जुकाम को ठीक करने के लिए मुलेन चाय बेहद प्रभावी उपाय है। इसमें एक्सपेक्टोरैंट गुण होते हैं जो छाती के बलगम को निकालने में मदद करते हैं और जुकाम से भी राहत दिलाते हैं।

सर्दी भगाने का तरीका है हल्दी दूध - Sardi bhagane ka upay turmeric milk in Hindi
सामग्री –

1 चम्मच हल्दी पाउडर।
गर्म दूध का एक गिलास।
(और पढ़ें - दूध के फायदे और नुकसान)

विधि –

सबसे पहले दूध में हल्दी मिलाएं और फिर पूरे दूध को अच्छे से मिला लें।
रात को सोने से पहले इस मिश्रण को पी लें।
हल्दी दूध का इस्तेमाल कब तक करें –

जब तक जुकाम चला नहीं जाता तब तक दूध को इसी तरह रात को सोने से पहले पियें।

हल्दी दूध के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

हल्दी में करक्यूमिन होता है जिसमे एंटीबायोटिक और एंटीऑक्सीडेंट के गुण मौजूद होते हैं। गर्म दूध को हल्दी के साथ पीने से सर्दी जुकाम और कफ से राहत मिलती है।

(और पढ़ें - हल्दी दूध बनाने की विधि, फायदे और नुकसान)

सर्दी दूर करने के घरेलू उपाय करे दालचीनी से - Sardi dur karne ke tarike me kare cinnamon ka upyog in Hindi
सामग्री –

1/2 चम्मच दालचीनी पाउडर।
1 चम्मच शहद।
विधि –

दालचीनी को शहद के साथ मिला लें।
मिलाने के बाद इसे खा जाएँ।
दालचीनी का इस्तेमाल कब तक करें –

इस प्रक्रिया को पूरे दिन में दो बार ज़रूर दोहराएं।

दालचीनी के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

दालचीनी में एंटीवाइरल और सूजनरोधी गुण होते हैं जो संक्रमण और सर्दी जुकाम के लक्षणों का इलाज करने में मदद करते हैं।

(और पढ़ें - दालचीनी के फायदे और नुकसान)

सर्दी ठीक करने के घरेलू उपाय में करे काढ़ा का उपयोग - Sardi thik karne ka tarika hai kadha in Hindi
सामग्री –

2 कप पानी।
1-1.5 इंच अदरक क टुकड़े।
2 काली मिर्च।
5-6 तुलसी के पत्ते।
4 लौंग।
1 चम्मच शहद।
विधि –

सबसे पहले अदरक, तुलसी के पत्ते और लौंग को क्रश कर लें।
अब इसमें पानी मिलाएं और इस मिश्रण को गर्म होने के लिए रख दें।
इसे तब तक उबालें जब तक पानी आधा न हो जाये।
अब मिश्रण को छान लें और शहद मिलाकर इसे पी जाएँ।
काढ़ा का इस्तेमाल कब तक करें –

पूरे दिन में इस काढ़े को एक या दो बार ज़रूर पियें।

काढ़ा के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

काढ़ा आमतौर पर एक हर्बल चाय है जो ज़्यादातर लोगों के घरों में जुकाम और कफ का इलाज करने के लिए बनाया जाता है। मिश्रण में मौजूद मसाले साइनस को साफ़ करते हैं और वाइरस को खत्म करते हैं।

सर्दी जुकाम से राहत दिलाता है सेंधा नमक - Sardi jukam se rahat dilata hai epsom salt in Hindi
सामग्री –

1 कप सेंधा नमक।
एक बाथ टब।
गर्म पानी।
विधि –

सबसे पहले अपने बाथ टब या बाल्टी को गर्म पानी से भर दें। पानी को उतना गर्म रखें जितना आप सहन कर सकें। अब उसमे सेंधा नमक मिलाकर अच्छे से पानी को चला दें।
अब इस बाथ टब में 20 मिनट के लिए बैठ जाएँ या बाल्टी में अपने पैरों को डाल दें।
सेंधा नमक का इस्तेमाल कब तक करें –

जब तक आपको जुकाम के लक्षणों से आराम नहीं मिल जाता तब तक इसका उपयोग एक या दो दिन छोड़कर करें।

सेंधा नमक के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

बलगम को निकालने के लिए और सर्दी जुकाम की वजह से होने वाले थकान से सेंधा नमक का पानी आपको राहत दिलाने में मदद करेगा। सेंधा नमक मिलाने से आपके शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर निकलेंगे और मांसपेशियों के दर्द को दूर करने में मदद मिलेगी।

(और पढ़ें - सेंधा नमक के फायदे)

जुकाम से बचने का घरेलू उपाय है गरारे - Jukam se bachne ka tarika hai gargle in Hindi
सामग्री –

एक ग्लास गर्म पानी।
एक चम्मच नमक।
विधि –

नमक को गुनगुने पानी में मिलाएं और फिर उससे गरारे करें।
गरारे का इस्तेमाल कब तक करें –

पूरे दिन में गरारे दो बार ज़रूर करें।

गरारे के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

गर्म पानी से गरारे करने से गले के दर्द और ख़राशों को कम करने में मदद मिलेगी। पानी आपके गले को हायड्रेट करेगा और नमक संक्रमण से लड़ने में मदद करेगा।

(और पढ़ें - नमक के पानी के फायदे)

जुकाम दूर करने के घरेलू उपाय करे आवश्यक तेल से - Jukam dur karne ke desi nuskhe me essential oils ka upyog in Hindi
सामग्री –

4-5 बूँद ओरगेनो का तेल या पेपरमिंट तेल या नीलगिरी का तेल।
एक चम्मच नारियल का तेल।
विधि –

कोई भी दो तेल को मिला लें और फिर उसे छाती, गर्दन और माथे पर लगाएं।
जितना हो सके इस तेल को ऐसे ही लगा हुआ छोड़ सकते हैं।
इसके आलावा आप आवश्यक तेलों का इस्तेमाल ऐसे भी कर सकते हैं। सबसे पहले बाथ टब या बाल्टी को गर्म पानी से भर लें। अब उसमे कुछ बूँदें आवश्यक तेलों की मिलाएं। अब या तो आप इस टब में बैठ जाएँ या पानी को अपने शरीर पर डालें। आप इन तेलों की सुगंध को भी अपने कमरे में फैला सकते हैं जिससे आपकी नाक बंद न हो सभी तरह के संक्रमण चले जाएँ।
आवश्यक तेल का इस्तेमाल कब तक करें –

इन तेलों का इस्तेमाल पूरे दिन में दो बार ज़रूर करें।

आवश्यक तेल के फायदे सर्दी जुकाम के लिए –

आवश्यक तेल न ही सिर्फ मसाज के लिए अच्छे होते हैं बल्कि सर्दी जुकाम के लक्षणों से भी राहत दिलाते हैं। नीलगिरी तेल बलगम को निकालता है, पेपरमिंट तेल में एक्सपेक्टोरैंट्स होते हैं, ऑरेगैनो तेल वायरस को खत्म करने में मदद करता है। इन तेलों की सुगंध आपकी तंत्रिकाओं को आराम देती हैं।

जुकाम का देसी नुस्खा है मछली का तेल - Jukam bhagane ka tarika hai fish oil in Hindi
मछली के तेल के सप्लीमेंट्स को बहुत सी सूजनरोधी समस्याओं के लिए डॉक्टर द्वारा बताया जाता है। यह इसलिए क्योंकि इस तेल में ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है जिसमे सूजनरोधी गुण मौजूद होते हैं। मछली के तेल के सप्लीमेंट्स नाक को खोलते हैं और सूजन को दूर करते हैं। यह जुकाम से होने वाले संक्रमण को खत्म करता है।

(और पढ़ें - मछली के तेल के फायदे)

सर्दी जुकाम का रामबाण उपाय है तुलसी - Jukam ka ramban nuskha hai basil leaves in Hindi
यदि आप फिल्म देखने के शौकीन हैं तो आपने यह ज़रूर देखा होगा कि जब बारिश में कोई भीग जाता है और उसे सर्दी हो जाती है तो उसे तुलसी का काढ़ा दिया जाता है।

हम आपको बता दें कि असल जिंदगी में भी यह उतना ही फायदेमंद है। इससे आप अपनी सर्दी की समस्या से निजात पा सकते हैं।

आपको कुछ नहीं करना है, बस तुलसी की कुछ पत्तियां लेकर उन्हें धो लें। फिर उसे सीलबट्‍टे में कूटकर मैश कर लें।
अब एक कप से थोड़ा ज़्यादा पानी उबालने के लिए रखे, पानी में उबाल आते ही उसमें मैश करी हुई तुलसी डालें और 3-4 मिनट और उबलने दें।
गैस बंद कर दें और 5 मिनट के लिए मिश्रण को ऐसे ही रहने दें। फिर छान कर इस काढ़े को गरमागर्म सर्व करें। 

(और पढ़ें – तुलसी के फायदे और नुकसान)

सर्दी से छुटकारा पाने का उपाय है गुड़ - Sardi se chutkara pane ke tarike me kare molasses ka upyo in Hindi
जब भी आपकी सर्दी बहुत ज़्यादा बढ़ जाती है तो आपकी छाती में भी कफ जमने लगता है जिसकी वजह से आपको असहज महसूस होने लगता है।

ऐसे में रात को सोने से पहले आप कुछ दिन एक गुड़ का टुकड़ा खाकर सोएँ। इससे आपके शरीर का तापमान गर्म रहेगा और आप सर्दी की समस्या से राहत पाएँगे।
यह प्रयोग आप केवल ठंडी के दिनो में ही करें। कई बार गर्मी में भी गले में इन्फेक्शन आदि होने के कारण सर्दी हो जाती है, तो तब आप यह प्रयोग ना करें। 

(और पढ़ें – दिमाग की शक्ति बढ़ाने का उपाय है तिल और गुड़)

जुखाम से छुटकारा पाए किशमिश से - Jukam se chutkara paye raisins se in Hindi
बचपन में अक्सर जब हमें बुखार हो जाता था तो मम्मी अक्सर हमें सिकी हुई किशमिश देती थी, ताकि मुंह का स्वाद भी अच्छा हो जाए और बुखार से लड़ने के लिए शरीर को ताक़त भी मिले। 

(और पढ़ें – बुखार के कारण)

सर्दी के घरेलू उपाय में भी किशमिश का नाम शामिल है। ना केवल स्कूल जाने वाले बच्चों बल्कि बड़ों के लिए भी यह अच्छा उपाय है।
प्रयोग के लिए किशमिश को तवे पर थोड़ा नमक डालकर सेंके। ठंडा होने के बाद इसका सेवन करें।
इस घरेलू नुस्खे से ना केवल आपका वायरल इन्फेक्शन ठीक होगा बल्कि गले को भी आराम मिलेगा।

उपर बताए गये पाँचो उपाय करने में काफ़ी आसान हैं। यह चीज़े आपको आसानी से अपने ही घर में मिल जाएंगी, आपको इसके लिए बाजार जाने की भी ज़रूरत शायद ही पड़ेगी, क्योकि यह चीज़ें अक्सर घर में ही मौजूद होती हैं।